बिहारियों को बोला गरीब और लालची: मिलिए उस कॉन्ग्रेसी नेता से, जिसे राहुल गाँधी खुद करते हैं फॉलो

TREANDING

इतना ही नहीं, इससे पहले भी उन्होंने बिहारियों को निशाने पर लिया। उन्होंने लिखा, “बिहारियों तुम फिर झूमलों के चक्कर में आ गए। अगर 15 लाख नहीं तो कोविड वैक्सीन मुफ्त तो माँगो और मिल जाए तो हम भी बिहार आकर लगवा लेंगे!!”

बिहार विधानसभा चुनाव की 243 सीटों पर मतगणना जारी है। अब तक सभी सीटों पर शुरुआती रुझान आ चुके हैं, जिनमें भाजपा-जदयू का एनडीए गठबंधन 132 सीटों पर आगे चल रहा है और उसे पूर्ण बहुमत मिलता नजर आ रहा है। वहीं राजद के नेतृत्व में महागठबंधन 98 सीटों पर आगे है।

इस बीच कॉन्ग्रेस शिकायत सेल की चेयरपर्सन अर्चना डालमिया ने बिहारियों को गरीब और लालची करार दिया है। चुनावी मतगणना में रुझान एनडीए की तरफ जाते देख अर्चना डालमिया ने ट्वीट करते हुए लिखा, “लगता है गरीब बिहारी मुफ्त वैक्सीन के लालच के चक्कर में आ गए है।”

इतना ही नहीं, इससे पहले भी उन्होंने बिहारियों को निशाने पर लिया। उन्होंने लिखा, “बिहारियों तुम फिर झूमलों के चक्कर में आ गए। अगर 15 लाख नहीं तो कोविड वैक्सीन मुफ्त तो माँगो और मिल जाए तो हम भी बिहार आकर लगवा लेंगे!!”

उन्होंने अपने ट्विटर पर एक पोस्ट को पिन किया हुआ है। इसमें लिखा गया है, “थोड़ा और इंतज़ार कीजिए। शाम ढलते ही लालटेन जलेगा।”

उन्होंने आज सुबह-सुबह एक ट्वीट करते हुए लिखा था, “नया सवेरा, नया बिहार, महागठबंधन की सरकार।”

अर्चना डालमिया को राहुल गाँधी फॉलो करते हैं

अर्चना कॉन्ग्रेस शिकायत सेल की चेयरपर्सन हैं, जिन्हें पूर्व कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी भी फॉलो करते हैं। बता दें कि इससे पहले कॉन्ग्रेस पार्टी के बीच नेतृत्व को लेकर हो रही कश्मकश के बीच अर्चना डालमिया ने पार्टी के बुजुर्ग नेताओं को झटका देते हुए कहा था कि गाँधी परिवार के अलावा कोई कॉन्ग्रेस अध्यक्ष देश स्वीकार नहीं करेगा।

डालमिया ने ट्वीट करते हुए लिखा था

, “गाँधी परिवार के अलावा और ‘कोई विकल्प है ही नहीं’… मैं फिर दोहराती हूँ कि जो गाँधी परिवार देश भर में स्वीकार किया जाता है, उसका कोई अल्टरनेटिव नहीं है!”

वहीं कॉन्ग्रेस के उदित राज ने मंगलवार को ईवीएम पर सवाल उठाते हुए ट्वीट किया, “जब मंगल ग्रह और चाँद की ओर जाते उपग्रह की दिशा को धरती से नियंत्रित किया जा सकता है तो ईवीएम हैक क्यों नहीं की जा सकती? अमेरिका में अगर ईवीएम से चुनाव होता तो क्या ट्रंप हार सकते थे?”

फिलहाल ऐसा है रुझान

गौरतलब है कि बिहार में अब तक सभी 243 सीटों पर रुझान आ चुका है। इसमें एनडीए 132 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है, जबकि महागठबंधन 98 सीटों पर आगे है। वहीं, चिराग पासवान की लोजपा 1 और अन्य दल 9 सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं। अगर राजनीतिक दलों की बात करें तो भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। वह 73 सीटों पर आगे चल रही है। दूसरे नंबर पर राजद है, जिसने 60 सीटों पर बढ़त बना रखी है। जदयू 49 सीटों पर आगे चल रही है तो कॉन्ग्रेस की झोली में 21 सीटें जाती नजर आ रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *