आरिफ, रिजवान की छत पर 1 क्विंटल से ज्यादा ‘देसी बम’: UP पुलिस की छापेमारी में धराया

TREANDING

उत्तर प्रदेश के मेरठ से एक चौंका देने वाला मामला सामने आया है। यहाँ मवाना में देसी बमों को छतों पर पापड़-चिप्स की तरह सुखाया जा रहा था। पुलिस ने छापेमारी के दौरान लाखों रुपए की कीमत के पटाखे और विस्फोटक जब्त किए। पुलिस ने इस मामले में 6 मजदूर महिलाओं को गिरफ्तार किया है। वहीं आरोपित आरिफ और उसका छोटा भाई रिजवान फरार है।

दरअसल, मेरठ के एक मकान में धमाके के बाद पुलिस ने अवैध पटाखा बनाने वालों को खिलाफ अभियान छेड़ दिया है। जिसके चलते मेरठ में देसी पटाखा फैक्ट्री पर ताबड़तोड़ छापेमारी की गई। एक बंद मकान में महिलाओं ने पटाखा बनाने का ‘कुटीर उद्योग’ चला रखा था। बता दें कि पुलिस को सूचना मिली थी कि मवाना क्षेत्र के एक बंद मकान में अवैध रूप से पटाखा कारखाना चलाया जाता है।

जानकारी के अनुसार, आरिफ और उसके छोटे भाई रिजवान द्वारा यह अवैध कारखाना चलाया जाता था। रिजवान बड़ी चालाकी से इस पूरे धंधे को चला रहा था। वह रोज सुबह महिला मजदूरों को कारखाने में काम पर लगा कर बाहर से ताला बंद कर देता था। इसके बाद वह देर शाम को वापस कारखाने को खोल उन्हें घर भेज देता था। चोरी छुपे बम और पटाखों को बना कर अलग-अलग जगह इसे सप्लाई करने का काम बड़ी सफाई से किया जा रहा था।

मुखबिरों की सूचना के अनुसार जब पुलिस मौके पर पहुँची, तब उन्हें कारखाने में छह महिलाएँ काम करते हुए नजर आईं। साथ ही छत पर भारी मात्रा में पटाखे सूख रहे थे। पुलिस को मौके से 20 बोरे सुतली बम, दस पेटी अनार बम, फुलझड़ी, अन्य पटाखे व भारी मात्र में विस्फोटक बरामद हुआ। बाजार में कीमत के अनुसार यह पाँच लाख रुपए से अधिक का माल बताया जा रहा है। इंस्पेक्टर ने बताया कि पकड़ी गई महिलाओं को मौके पर नोटिस देकर छोड़ दिया गया और पटाखों को जब्त कर लिया गया है।

हैरानी की बात यह है कि यह बारूद इतना खतरनाक है कि अगर धमाका हुआ तो आसपास के कई घर जमींदोज हो जाएँगे। बारूद, रंग, कांच के साथ-साथ कई ऐसे हानिकारक पदार्थ मिलाकर यह पटाखे तैयार किए जाते हैं।

एक दूसरी छापेमारी में शनिवार को पुलिस ने छापेमारी कर तीन क्विंटल अवैध पटाखे जब्त कर चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि गोटका थाना सरूरपुर निवासी सद्दाम पुत्र सलीम को अवैध पटाखों के साथ नगर के इकबाल पुत्र इब्राहिम के मकान से पकड़ा गया है। यहीं के निवासी शकील पुत्र जमील अहमद, अकील अहमद पुत्र खलील अहमद और सुऐब पुत्र खलील अहमद को मोहल्ला कमरानवाबान से पकड़ा गया है। इनके पास से भारी मात्र में अवैध पटाखे बरामद हुए हैं। वसीम पुत्र सलीम निवासी गोटका व सलाउद्दीन पुत्र अलाउद्दीन मोहल्ला खारीकुआं फरार होने में कामयाब हो गए।

सीओ मवाना उदय प्रताप सिंह ने कहा कि मवाना में कई गोदाम व मकानों में छापा मारा गया। एक मकान में भारी मात्र में पटाखों का जखीरा पकड़ा। मौके पर मिली महिलाओं को नोटिस देकर छोड़ दिया। आरोपितों की जल्द गिरफ्तारी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *