‘लव जिहाद पर कानून होता तो आज मेरी बेटी जिंदा होती’ पिता ने उठाई मांग बने कानून

TREANDING

हरियाणा स्थित फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में बीकॉम फाइनल ईयर की छात्रा निकिता तोमर की हत्या के बाद ‘लव जिहाद’ के खिलाफ कानून की माँग जोर पकड़ने लगी है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और गृह मंत्री अनिल विज ने भी कहा था कि सरकार इस पर विचार कर रही है। हरियाणा सरकार की इस घोषणा पर प्रतिक्रिया देते हुए निकिता तोमर के पिता ने कहा कि ये निर्णय बहुत पहले ही लिया जाना चाहिए था।

निकिता तोमर के पिता ने कहा कि अगर ‘लव जिहाद’ के विरुद्ध क़ानून होता तो शायद उनकी बेटी की जान नहीं जाती। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि इस मामले में सभी पक्षों को एक होकर सामने आना चाहिए और फैसला लेना चाहिए। वल्लभगढ़ में निकिता तोमर हत्याकांड के बाद आरोपित तौसीफ के कॉन्ग्रेस नेताओं के परिवार से कनेक्शन सामने आए थे। उसका परिवार रसूख वाला है और उसकी माँ भी निकिता पर इस्लाम अपनाने के लिए दबाव बना रही थी।

रविवार (नवंबर 1, 2020) को इस मामले में न्याय की माँग कर रहे प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प भी हुई, जिस दौरान पुलिस को लाठीचार्ज करनी पड़ी। बल्लभगढ़ में राष्ट्रीय राजमार्ग 2 के पास प्रदर्शनकारी जमा हो गए नारेबाजी शुरू कर दी। कुल 36 समुदायों के लोगों ने न्याय के लिए आवाज़ उठाई। हरियाणा पुलिस के डीसीपी सुमेर सिंह ने बताया कि बिना अनुमति के लिए हो रहे ‘महापंचायत’ में कानून-व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश करने वाले कई ‘बदमाशों’ को हिरासत में लिया गया है।

इस मामले में जाँच के लिए एक स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम का गठन किया गया है। निकिता की हत्या के बाद गिरफ्तार किए गए तौसीफ और रेहान अपना हुलिया बदल कर फरीदाबाद में ही छिपे थे। उन्हें यकीन ही नहीं था कि वो पकड़े जा सकते हैं। अग्रवाल कॉलेज के सामने लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दोनों की पहचान हुई थी। हत्या के बाद दोनों अपने एक रिश्तेदार के निर्माणाधीन मकान में छिप गए थे।

दोनों आरोपितों ने नाई को बुला कर अपने बाल भी कटवा लिए थे। जबकि सीसीटीवी फुटेज में देखा जाए तो उसके बाल काफी बड़े थे। दोनों को लगता था कि पुलिस को ये जानने में ही काफी समय लग जाएगा कि इस हत्या के पीछे कौन है और कौन नहीं, लेकिन सीसीटीवी फुटेज में निकिता के भाई नवीन ने उनकी पहचान कर ली। अब सभी को हरियाणा सरकार द्वारा गठित 3 सदस्यीय जाँच समिति की रिपोर्ट का इन्तजार है।

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी कहा है कि सरकार भी ‘लव जिहाद’ के मामलों पर रोक लगाने के लिए क़ानून लेकर आएगी। इसके बाद उन्होंने कहा, “ऐसे लोगों के लिए चेतावनी है, जो अपनी पहचान छिपा कर हमारी बहनों के सम्मान के साथ खिलवाड़ करने का प्रयास करते हैं।” उन्होंने कहा कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक आदेश दिया है शादी-ब्याह के लिए धर्म परिवर्तन आवश्यक नहीं है। उन्होंने घोषणा की कि इस बात को ध्यान में रखते हुए सरकार भी निर्णय ले रही है कि हम लव जिहाद को सख्ती से रोकने का प्रयास करेंगे।

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा, “योगी आदित्यनाथ जी जो कहते हैं, जब कहते हैं, सत्य कहते हैं, ये लव जिहाद का इलाज करना जरूरी है बच्चियों को बचाने के लिए। अगर इसके लिए कानून बनाना पड़े, कुछ और करना पड़े तो, किया जाना आवश्यक है। हम इस पर विचार कर रहे हैं।” उन्होंने ट्वीट कर के जानकारी दी कि हरियाणा में ‘लव जिहाद’ के खिलाफ कानून बनाने पर विचार किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *