मथुरा के नंद बाबा मंदिर में धोखा देकर पढ़ी नमाज, मो. चांद समेत 4 के खिलाफ FIR दर्ज

NATIONAL

2 सेकुलरों के साथ मिलकर 2 मुसलमानों ने बेहद शातिर तरीके से मथुरा के नन्द बाबा के पुजारी को मुर्ख बनाया और धोखा देकर हिन्दू मंदिर में नमाज़ पढ़ी

बीते दिनों सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हुई जिसमे मथुरा के नन्द बाबा मंदिर में 2 मुसलमान नमाज़ पढ़ते दिखाई दिए, इस घटना के बाद लोगो में आक्रोश दिखा क्यूंकि हिन्दू मंदिर में गौमांस खाने वालो को नमाज़ की इज़ाज़त देने से मंदिर की पवित्रता को ठेस पहुंची

इस मामले में अब जो जानकारी सामने आई है उस से पता चलता है की बेहद शातिर तरीके से सिर्फ तस्वीरें खिंचवाने के मकसद से ये काम किया गया ताकि इसे लेकर प्रोपगंडा फैलाया जा सके

29 अक्टूबर को टोपी लगाकर 2 मुसलमान मंदिर परिसर में पहुंचे, इनमे से एक ने अपना नाम फैज़ल बताया और दुसरे ने मोहम्मद चाँद, दोनों के साथ खुद को गाँधीवादी कहने वाले 2 सेक्युलर भी आये जिन्होंने अपना नाम निलेश गुप्ता और अलोक रतन बताया, हालाँकि ये इनके असली नाम है या नहीं इसकी जांच चल रही है

फैज़ल ने मंदिर के पुजारी कान्हा गोस्वामी से कहा की वो हिन्दू मुस्लिम संस्कृति को मानता है और उसने पुजारी को अपनी कई सारी तस्वीरें मोबाइल पर दिलाई और मंदिर के पुजारी को भरोसे में ले लिया की वो एक सेक्युलर व्यक्ति है और मंदिर में सिर्फ एकता के मकसद से आया है

झांसे में आने के बाद पुजारी कान्हा गोस्वामी ने मंदिर में नमाज़ पढने की इज़ाज़त दे दी, जिसके बाद फैज़ल और मोहम्मद चाँद जल्दी जल्दी नमाज़ पढने लगे जबकि निलेश गुप्ता और अलोक रतन ने तेजी से इनकी तस्वीरें खींचने का काम शुरू कर दिया

सबकुछ सिर्फ तस्वीरें निकालने के मकसद से किया गया, तस्वीरें खींचने के बाद चारों मंदिर से रफूचक्कर हो गए

अब मंदिर प्रशासन की शिकायत पर फैज़ल, मोहम्मद चाँद, निलेश गुप्ता और अलोक रतन के खिलाफ धारा 153-A, 295 ,505 के तहत मामला दर्ज किया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *