फ़्रांस ने मुसलमान परिवार को देश से निकाल भगाया, कह रहे थे – “शरिया से चलेंगे” अब न देश मे रहेंगे न ही

NATIONAL

फ़्रांस ने अपने यहाँ अब सफाई अभियान शुरू कर दिया है, फ़्रांस अब उन उन्मादियों को देश से निकाल रहा है जो कहते है की हम शरिया से चलेंगे, फ़्रांस की वर्तमान मक्रों सरकार ने साफ़ कर दिया है की फ़्रांस में रहना है तो फ़्रांस के कानून से ही चलना होगा, यहाँ शरिया के लिए कोई स्थान नहीं है

हाल ही में एक शिक्षक का मुसलमानों ने क़त्ल किया था और इसी के बाद फ़्रांस की मक्रों सरकार सख्त हो गयी है और राष्ट्रपति ने इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ कार्यवाही के निर्देश जारी कर दिए है

फ़्रांस की सरकार ने अब एक ऐसे मुसलमान परिवार को देश से निकाल भगाया है जो फ़्रांस में आकर भी शरिया से चल रहा था, इस मुसलमान परिवार को वहीँ भगा दिया गया है जहाँ से ये शरणार्थी बनने से पहले आया था

इस मुसलमान परिवार में 5 लोग थे, इनकी बेटी ने यहाँ स्थानीय युवक से मित्रता की थी जिसके बाद इस परिवार ने माझी उन्माद का परिचय देते हुए हिंसा की और अपनी बेटी का सर मुंड दिया और धमकी दी की गैर मुसलमान से रिश्ता नहीं बनाया जा सकता ये शरिया के खिलाफ है

23 अक्टूबर को 2 दो मुसलमानों को गिरफ्तार किया गया था, ये मुसलमान दंपत्ति था, इन लोगो ने अपनी ही 17 साल की बेटी और उसके मित्र के साथ मारपीट की थी और अपनी बेटी का सर मुंड दिया था

मुसलमान दंपत्ति ने शरिया का हवाला देते हुए मजहबी उन्माद दिखाया और कहा की – गैर मुस्लिम के साथ बेटी रिश्ता नहीं बना सकती, ये हराम है

फ़्रांस की सरकार ने कहा की – फ़्रांस में शरिया नहीं चलता, ये एक मुक्त देश है और यहाँ किसी भी धर्म के लोग दुसरे धर्म के लोगो से मित्रता कर सकते है, पर मुस्लिम दंपत्ति शरिया का हवाला देता रहा

 

इसके बाद मामला फ़्रांस के गृहमंत्रालय तक पहुंचा जिसके बाद फ़्रांस के गृहमंत्री गेराल्ड दर्मनिं ने पुरे मुसलमान परिवार को फ़्रांस से निकालने का फैसला कर लिया और उनको उनके देश वापस भेज दिया गया, गृहमंत्री गेराल्ड दर्मनिं ने कहा की फ़्रांस में पीड़ित लोग शरणार्थी बनकर आ सकते है पर यहाँ उनको फ़्रांस के कानून को मानना पड़ेगा, यहाँ शरिया नहीं बल्कि फ़्रांस का कानून ही चलेगा और जो इसका पालन नहीं करेगा उसे फ़्रांस में शरण नहीं मिल सकती और इसी कारण मुसलमान परिवार को बाहर निकाल दिया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *