‘महबूबा मुफ्ती’ बोली थी नहीं फहराएंगे तिरंगा, हिंदूवादी दलों ने ‘PDP मुख्यालय में घुसकर फहराया तिरंगा’

TREANDING

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी नेता के झंडे वाले .बयान के बाद पीडीपी के जम्मू मुख्यालय पर भीड़ ने घुसकर हमला कर दिया। पीडीपी नेताओं ने आरोप लगाया कि कुछ लोगों ने जबरन ऑफिस में घुसकर हाथापाई की और तिरंगा फहरा दिया। इस दौरान पीडीपी नेताओं ने धमकी दिए जाने का आरोप भी लगाया है।

घटना को लेकर पीडीपी ने पुलिस पर शिथिलता का आरोप लगाया है। Jammu-Kashmir: PDP Office के बाहर समाजसेवियों ने फहराया Tiranga | वनइंडिया हिंदी पीडीपी नेता फिरदौस टाक ने कहा कि “आज शाम PDP के जम्मू हेड ऑफिस में कुछ लोग भगवा रंग के झंडे लेकर और भगवा चोला पहने अंदर घुसे। हमारे कार्यकर्ताओं ने जब आपत्ति जताई तो वो पार्टी ऑफिस के बाहर तिरंगा लगाकर गए।

बहुत सारी धमकियां दी कि वो पार्टी ऑफिस को जला देंगे, बंद कर देंगे।” वहीं पीडीपी ने मामले में पुलिस पर सूचना देने के बावजूद किसी तरह के सुरक्षा इंतजाम न करने का आरोप लगाया है। टाक ने कहा “पुलिस को सूचित करने के बावजूद न तो यहां पर प्रोटेक्शन बढ़ाई गई न ही कोई इंतजाम किए गए। बता दें कि पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने एक दिन पहले देश के तिरंगे झंडे को लेकर बेहद ही विवादित बयान दिया था।

मुफ्ती ने पत्रकारों से बातचीत में कहा था कि जब तक जम्मू-कश्मीर को उसका झंडा नहीं वापस मिल जाता तब तक वो तिरंगा नहीं उठाएंगी। महबूबा हाल ही में पब्लिक सेफ्टी ऐक्ट से छूटकर 14 महीने की नजरबंदी के बाद हिरासत से बाहर आई हैं; और जब से वह आर्टिकल-370 की वापसी के बाद फिर से जम्मू-कश्मीर की राजनीति में सक्रिय हुई हैं, जम्मू-कश्मीर से पिछले साल 5 अगस्त को आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से वहां के सिविल सचिवालय से जम्मू-कश्मीर का झंडा हटा लिया गया था, जो कि पहले वहां तिरंगे के साथ-साथ फहराया जाता था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *