‘मुस्लिम था हिन्दू बन टीका लगाता था सबको लगा हिन्दू होगा’ हिन्दू लड़की को फसा 8 लाख लेकर भागा

UTTAR PRADESH

उत्तर प्रदेश में एक बार फिर से कथित ‘लव जिहाद’ का मामला सामने आया है। बरेली में शनिवार (अक्टूबर 17, 2020) को एक लड़की गायब हो गई थी, जिसके परिवार ने आरोप लगाया है कि दूसरे समुदाय के एक युवक ने उससे शादी कर ली है। आरोप है कि ये शादी जोर-जबरदस्ती की गई। भाजपा और विहिप के कार्यकर्ताओं ने इस घटना के बाद थाने में जाकर विरोध प्रदर्शन किया और मामले में कड़ी कार्रवाई की माँग की।

हालाँकि, परिजनों के आरोपों को नकारते हुए लड़की ने एक वीडियो जारी किया है और दावा किया है कि वो बालिग़ है और अपनी मर्जी से गई है। लड़की ने जहाँ जोर-जबरदस्ती की बात नकार दी है, वहीं उसके पिता ने आरोप लगाया है कि वो 8 लाख रुपए और सोने की चैन लेकर फरार हुई है। पिता ने आशंका जताई है कि उनकी बेटी की हत्या की जा सकती है और ये धन के लिए किया गया कृत्य भी हो सकता है।

वहीं स्थानीय हिन्दू संगठनों ने आरोप लगाया है कि लड़की के साथ जोर-जबरदस्ती करके उसे धोखे से ले जाया गया है। प्रदर्शन कर रहे भाजपा और विहिप कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठियाँ भी बरसाईं। लापरवाही और बल-प्रयोग के बाद चौकी इंचार्ज सहित कुछ पुलिसकर्मियों को सस्पेंड भी कर दिया गया है। सोशल मीडिया पर भी कई तस्वीरों के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि बरेली का ये मामला ‘लव जिहाद‘ का ही है।

लड़की के पिता ने बताया कि उनकी बेटी बीएससी की छात्र है और कम्प्यूटर कोचिंग के लिए जाती है। अक्टूबर 17 को जब वो कोचिंग से वापस नहीं आई तो परिजनों ने खोजबीन शुरू की। फिर किसी ने बताया कि एक लड़का उसे ले गया है। पिता का कहना है कि लड़के के माथे पर टीका लगा हुआ था, इसीलिए परिजन समझते थे कि वो हिन्दू होगा। प्रेमनगर की रहने वाली छात्रा से आरोपित ने अपना नाम छिपा कर परिचय बढ़ाया था, ऐसा आरोप है।

आरोपित का नाम बिलाल है, जिसके खिलाफ मामला सामने आने के 3 दिन बाद तक भी कार्रवाई नहीं हुई तो हिन्दू संगठन उग्र हो गए। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। एडीजी ने मौके पर पहुँच कर आश्वासन दिया है कि लड़की को 24 घंटे के भीतर बरामद कर लिया जाएगा। एसएसपी ने बताया कि अभद्रता करने वाला चौकी इंचार्ज निलंबित किया जा चुका है। आरोपित और पीड़िता को अब कोर्ट में पेश किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *