MP: इमरती देवी के अपमान से नाराज शिवराज का मौनव्रत जारी, कमलनाथ की बढ़ी मुश्किलें

TREANDING

मध्यप्रदेश के दतिया में उपचुनाव के लिए अपने पार्टी के उम्मीदवार के पक्ष में चुनाव प्रचार के दौरान मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ, जिसके बाद से राज्य की सियासत में घमासान मच गया है।

प्रदेश में सत्ताधारी पार्टी बीजेपी को बैठे-बैठे कांग्रेस को घेरने के लिए मुद्दा मिल गया है और वहीं चुनावी मौसम में कमलनाथ की ये टिप्पणी उनके लिए गले की फांस बनती जा रही है। इसी बीच कमलनाथ के इमरती देवी को लेकर दिए बयान पर शिवराज सिंह चौहान आज दो घंटे के मौन व्रत पर हैं।

बता दें, जहां शिवराज धरने पर बैठे हैं, उस जगह पर बीजेपी महिला नेताओं का पोस्टर लगाए गए हैं। यही नहीं कांग्रेस नेता मिनाक्षी नटराजन का पोस्टर भी लगाया गया है, क्योंकि नटराजन के खिलाफ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने विवादित टिप्पणी की थी।

क्या था मामला?

इमरती देवी के खिलाफ डबरा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के लिए चुनाव प्रचार करते हुए कमलनाथ ने रविवार को कहा, ‘‘डबरा से सुरेश राजे जी हमारे उम्मीदवार हैं। सरल स्वभाव के, सीधे-सादे हैं। ये तो उसके जैसे नहीं हैं। क्या है उसका नाम?’’ इसी बीच वहां मौजूद जनता जोर-जोर से ‘इमरती देवी’, ‘इमरती देवी’ कहने लगती है।

इसके बाद कमलनाथ ने हंसते हुए कहा, ‘‘मैं क्या उसका (डबरा की बीजेपी प्रत्याशी) नाम लूं। आप तो उसको मेरे से ज्यादा पहचानते हैं। आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था। ये क्या आइटम है? ये क्या आइटम है?’’

इस पर वहां मौजूद जनता ने खूब तालियां बजाई और कमलनाथ हंसते हुए मंच से दोहराते रहे, ‘‘ये क्या आइटम है? सुरेश राजे जी का साथ दीजिएगा।’’

इस पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ पर पलटवार करते हुए कहा कि एक महिला के लिए कमलनाथ ने ‘आइटम’ जैसे शब्द का उपयोग कर अपनी सामंतवादी सोच फिर उजागर कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *