कमलनाथ की अभद्र टिप्पणी पर भड़कीं इमरती देवी, सोनिया गांधी से की बर्खास्त करने की मांग

TREANDING

बीजेपी मंत्री इमरती देवी ने रविवार को मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ द्वारा उन्हें ‘आइटम’ बुलाए जाने पर प्रतिक्रिया दी है और कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी से उन्हें पार्टी से निकालने की अपील की है। कमलनाथ को ‘राजनीति के लिए अयोग्य’ करार देते हुए, उन्होंने कहा कि जब वह मंत्रिमंडल में थे, तब वे एक बड़े भाई के रूप में उनका सम्मान करती थी।

ANI से बात करते हुए उन्होंने कहा-“क्या ये मेरी गलती है कि मैं एक गरीब दलित परिवार में एक महिला के रूप में पैदा हुई। सोनिया गांधी भी एक महिला हैं और उन्हें कमलनाथ के खिलाफ एक्शन लेना चाहिए। उन्हें पार्टी से निकाल देना चाहिए। मैं कमलनाथ के पैर छुआ करती थी। मैंने एक बड़े भाई की तरह उनका सम्मान किया। मैं कांग्रेस पार्टी में 10 साल से भी ज्यादा समय से रही हूं लेकिन कभी बीजेपी ने टिप्पणी नहीं की।”

उन्होंने आगे रोते हुए कहा, “मैं अपनी पार्टी के नेताओं से कल शिकायत करूंगी और पूछूंगी कि क्या मुझे राजनीति करने का अधिकार है या नहीं। ये लोग मध्य प्रदेश में रहने के लायक नहीं हैं। उन्होंने एमपी की सभी लक्ष्मी का अपमान किया है। कमलनाथ एक राक्षक है और उन्होंने जो कहा है, वो पूरे देश तक पहुंचना चाहिए।”

कमलनाथ ने इमरती देवी को कहा ‘आइटम’ 

बता दें कि पूर्व सीएम कमलनाथ ने रविवार को डबरा में एक रैली को संबोधित करते हुए इमरती देवी को ‘आइटम’ बुला दिया था। वह कांग्रेस के उम्मीदवार सुरेश राजे का समर्थन करने के लिए आए थे जब उन्होंने ये विवादित टिप्पणी की।

उनके मुताबिक, “हमारे उम्मीदवार सुरेश राजे सरल हैं। वह (इमरती देवी) जैसे नहीं हैं। आप उन्हें बेहतर जानते हैं, आपको मुझे चेतावनी देनी चाहिए थी। वह क्या आइटम थी। इसलिए चंबल और ग्वालियर के भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए सुरेश राजे को वोट दें।” राजे का डबरा की निर्वाचन क्षेत्र सीट के लिए इमरती देवी से सामना है।

ये भी पढ़ेंः BJP महिला नेता को लेकर कमलनाथ की विवादित टिप्पणी पर भड़के सिंधिया, कहा- कांग्रेस कर रही है घटिया राजनीति

बीजेपी ने लिया कड़ा एक्शन

पूर्व सीएम कमलनाथ के खिलाफ कार्रवाई करते हुए, बीजेपी ने राज्य की महिला और बाल विकास मंत्री इमरती देवी को ‘आइटम’ बुलाए जाने पर चुनाव आयोग के साथ शिकायत दर्ज की है। बीजेपी ने मांग की है कि कमलनाथ के चुनाव कार्यक्रमों पर रोक लगाई जानी चाहिए और टिप्पणी के संबंध में महिला आयोग और अनुसूचित जाति आयोग को शिकायत करने का फैसला किया है। सीएम शिवराज चौहान ने घोषणा की है कि वह सोमवार को भोपाल में 2 घंटे का मौन विरोध प्रदर्शन करेंगे, जबकि कई बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कमलनाथ के पुतले जलाए हैं।

ये भी पढ़ेंः कमलनाथ ने की महिला नेता पर अभद्र टिप्पणी; CM शिवराज बोले- उन्होंने अपनी सामंतवादी सोच फिर उजागर कर दी

राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी उठाया कदम

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने ट्विटर के जरिए सूचना दी है कि वह कमलनाथ को नोटिस भेज रही है और इस बारे में चुनाव आयोग को भी पत्र लिखेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *