सुशांत के फैंस ने CBI से मांगा जवाब, ‘मन की बात’ के जरिए करेंगे PM मोदी से अपील

TREANDING

सुशांत सिंह राजपूत के फैंस हार मानने वाले नहीं हैं और उन्हें न्याय दिलाकर ही दम लेंगे। अभिनेता की मौत के करीब चार महीने बाद, दुनियाभर से फैंस यह जानने के लिए अथक प्रयास कर रहे हैं कि 14 जून को आखिर हुआ क्या था। अब CBI से जवाब मांगने के साथ साथ, लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मदद की गुहार लगाई है।

सुशांत की एक फैन हाल ही में ‘जस्टिस फॉर सुशांत’ का एक बैनर पकड़े हुए सड़कों पर उतरी। अपने इस प्रदर्शन के जरिए वह CBI से सुशांत मामले में अपनी चुप्पी तोड़ने के लिए कह रही थी। ये लड़की सड़कों पर बैनर के साथ घूमते देखी गई और एक बस स्टॉप पर अपनी मांग उठा रही थी।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 19 अगस्त को CBI को मामले को उठाने का आदेश दिया था। हालांकि, दो महीने बाद भी एजेंसी की तरफ से मामले में अभी तक कोई अपडेट नहीं मिला है। शुरूआत में रिया चक्रवर्ती समेत अन्य आरोपियों से लगातार पूछताछ करने के बाद, पिछले कुछ हफ्तों में इस तरह की कोई गतिविधि नहीं देखी गई है।

हालांकि, ऐसी ख़बरें हैं कि पूछताछ के दूसरे चरण के लिए CBI की एक टीम मुंबई में है, जो सिद्धार्थ पिठानी और अन्य की दोबारा जांच कर सकती है और उन्हें गवाह बना सकती है। हालांकि,एजेंसी का एकमात्र अपडेट यह रहा है कि मामले में अभी तक कोई एंगल खारिज नहीं किया गया है और हर एंगल से जांच की जा रही है।

ये भी पढ़ेंः सुशांत के लिए लंदन में आयोजित रैली का हिस्सा बनी राबिया खान, बेटी जिया के लिए भी मांगा इंसाफ

इस बीच, 14 अक्टूबर को सुशांत की मौत के चार महीने पूरे होने पर, फैंस एक और पहल की योजना बना रहे हैं। अभिनेता के दोस्त नीलोत्पल मृणाल ने फैंस से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए उनके सार्वजनिक संबोधन रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के माध्यम से एक संदेश रिकॉर्ड करने का आग्रह किया है। उन्होंने पीएम से इस बारे में बात करने की उम्मीद की है क्योंकि उन्होंने पोर्टल के माध्यम से सुशांत के फैंस से अपनी प्रतिक्रियाएं जमा कराने का आग्रह किया था।

सुशांत सिंह राजपूत केस का अपडेट

सुशांत 14 जून को अपने घर में मृत पाए गए थे। मामले के तीन अलग-अलग एंगल की तीन अलग-अलग एजेंसियां- CBI, प्रवर्तन निदेशालय (ED) और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) जांच कर रही हैं। डॉक्टरों की एक टीम द्वारा कथित तौर पर हत्या के एंगल को खारिज करने के बाद, CBI ने स्पष्ट किया कि वे अभी भी हर एंगल से जांच कर रहा है। इस बीच, मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती को हाल ही में एक महीने बाद जमानत पर रिहा कर दिया गया है। उन्हें ड्रग कार्टेल का हिस्सा होने के कारण गिरफ्तार किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *