मायावती ने कांग्रेस पर ‘वोटबैंक की पॉलिटिक्स’ करने का लगाया आरोप; पूछा- ‘राजस्थान पर चुप्पी क्यों?’

TREANDING

उत्तर प्रदेश में ‘बिगड़ती’ कानून-व्यवस्था की स्थिति के बीच बहुजन समाज पार्टी की अध्‍यक्ष और उत्‍तर प्रदेश की पूर्व मुख्‍यमंत्री मायावती ने कांग्रेस की ‘वोट-बैंक की राजनीति’ को लेकर निशाना साधा है।  बिना नाम लिए मायावती ने कहा कि यूपी की तरह राजस्थान में भी दलितों और महिलाओं के खिलाफ अपराध चरम पर हैं, लेकिन कांग्रेस के नेता इसको लेकर चुप्पी साधे हुए हैं।

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि कांग्रेस नेताओं की चुप्पी से पता चलता है कि उन्हें न्याय की परवाह नहीं है, लेकिन वे केवल वोट बैंक की राजनीति के लिए उत्तर प्रदेश में डेरा डाले हुए हैं। मायावती ने रविवार सुबह सिलसिलेवार ट्वीट में कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश की तरह राजस्‍थान प्रदेश में भी कांग्रेसी राज में हर प्रकार के अपराध खासकर निर्दोषों की हत्‍या, दलित एवं महिलाओं का उत्‍पीड़न आदि चरम सीमा पर है।’मायावती ने कहा, ‘‘अर्थात यहां भी कानून का नहीं बल्कि जंगलराज चल रहा है। अति शर्मनाक व अति चिंताजनक।’ उन्‍हों

कहा, ‘लेकिन यहां (राजस्थान में) कांग्रेसी नेता अपनी सरकार पर शिंकजा कसने की बजाय खामोश हैं।’’

मायावती ने कहा कि इससे लगता है कि उत्तर प्रदेश में अभी तक उनका (कांग्रेस नेताओं का) पीड़ितों से मिलना केवल वोट की राजनीति है और कुछ भी नहीं।

गौरतलब है कि राजस्थान के करौली में पुजारी को जिंदा जलाने, बाड़मेर में नाबालिग से बलात्कार सहित कई घटनाओं ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं। लेकिन राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने इन घटनाओं को लेकर अभी तक कुछ बयान नहीं दिया है लेकिन उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में दलित समुदाय की महिला के साथ कथित सामूहिक दुष्कर्म और उसकी मौत मामले में उनकी सक्रियता पर राजनीतिक पार्टियां ‘दोहरे रवैया’ का आरोप लगा रही हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *