‘ऑपरेशन हाथरस’ : कांग्रेसी नेता ने कैमरे पर मानी ‘दंगा भड़काने की साज़िश’ की बात, कई चेहरे हुए बेनकाब

TREANDING

यूपी के हाथरस को एक बार फिर ‘जलाने’ की कोशिश की गई, हाथरस में एक परिवार के दुख पर सियासत की जा रही है। इंसाफ के नाम पर यूपी के हाथरस में ‘दंगा फैलाने’ का पूरा इंतजाम किया गया। सूत्रों के मुताबिक प्रदेश की जांच एजेंसियों के हाथ भी कुछ ऐसे सुराग लगे हैं जिन्होंने जिले में एक बड़ी ‘खूनी’ साजिश की ओर इशारा किया है।

उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में महिला के साथ कथित सामूहिक दुष्‍कर्म और उसकी मौत के बाद तेजी से बदल रहे राजनीतिक घटनाक्रम के बीच रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क ने ऐसे शख्स को बेनकाब किया है जिसका हिंसा भड़काने की साजिश में कथित तौर पर नाम आ रहा है।

श्योराज जीवन कोई छुटभैया नेता नहीं है, उनकी एक खास समुदाय पर अच्छी पकड़ है और ऐसी भी तस्वीरें सामने आई जहां वो कांग्रेस के दिग्गज नेताओं के साथ ‘फोटो में दिखाई’ दे रहे हैं। लेकिन इसतक पहुंचना कोई आसान काम नहीं था, इसलिए इस शख्स की तलाश में रिपब्लिक भारत के संवाददाता अमित चौधरी ने ढेरों लोगों से बात की, उनसे मिले सुराग पर आगे बढ़े और उन्हें ढूंढ निकला। कांग्रेसी नेता श्योराज जीवन ने ऐसी बाते कहीं है जिसको देखकर सब सन्न रह जाएंगे।

बड़ा कबूलनामा

स्टिंग में कांग्रेसी नेता ने कहा कि हाथरस में “एक भयंकर झड़प” और “एक खूनी लड़ाई” होगी। जब कारण पूछा गया, तो उन्होंने दावा किया कि “उन्होंने (अज्ञात) मेरे समुदाय के लोगों के पुतले जलाए। मेरा भी पुतला जलाया गया। इस पर गुस्सा है और यह दिन-प्रतिदिन बढ़ गया है।”

उन्होंने कहा “कोई भी दंगों को रोक नहीं सकता है, जिस तरह से स्थिति पनप रही है, क्योंकि यह हमारा समाज एक मार्शल कौम है। आप हम पर हमला कर सकते हैं क्योंकि गांवों में 2- 4 घर हैं। लेकिन हम शहर में बड़ी संख्या में हैं। ” कांग्रेस नेता ने स्वीकार किया कि उनकी “पूरी तैयारी है” और उनकी पार्टी इसके लिए “कमर कस रही है।”

‘मैंने चार दिन बाद हस्तक्षेप किया’

राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा के ‘शीर्ष सहयोगी’ ने हाथरस मामले में हस्तक्षेप की बात स्वीकार की। उन्होंने कहा कि “मामला दफन हो गया था, लेकिन उन्होंने चार दिन बाद इसमें हस्तक्षेप किया। पीड़िता के परिवार ने हार मान ली थी, वे एक समझौते के लिए भी तैयार थे। जब मुझे पता चला, तो मैं उनसे मिलने गया। यदि कोई व्यक्ति वहां गया था, तो वह वह नहीं सहन करेगा जो भी वह देखेगा। मैं उसी जाति से हूं। यदि दूसरी जाति का कोई व्यक्ति ये सब देखेगा, तो भी वह सहन नहीं करेगा”

श्योराज जीवन ने खुलासा किया कि कांग्रेस को “एक बड़ा मुद्दा मिल गया। उन्होंने आगे कहा कि अब स्थिति ऐसी है कि दूसरी जाति के लोग मेरे दुश्मन बन गए हैं। वो लोग मेरे साथ बैठकें कर रहे हैं। समुदाय एकजुट हो रहा है और समुदाय में गुस्सा भी है।” टेप में, वह बड़े विस्तार से बताता है कि वह ‘सामूहिक हिंसा को भड़काने’ के लिए किसी भी तरह की मदद करने के लिए तैयार है और कोई भी ताकत इसे होने से नहीं रोक पाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *