🚩राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS)🚩 का काम बोलता है, जो आप कल्पना भी नहीं कर सकते,ऐसा है RSS

TREANDING

कैसे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने बिन बताए कुछ ऐसा काम कर दिया जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते। जब जब देश पर विपत्तियां आती है और वे विपत्तियां कितनी भी बड़ी क्यों ना हो परन्तु संघ से जुड़े स्वयंम सेवक बिन बताए पहुंच जाते है लोगो तक मदद पहुंचाने। संघ की खास बात यह है कि वे ना अपनी तस्वीर निकालते है और ना ही कोई अपनी की हुई मदद कि खबर छपवाने में रुचि रखते है।

संघ का काम है सिर्फ और सिर्फ कैसे भारत के लोगो की जान बचाई जाए और लोगो तक ज्यादा से ज्यादा राहत और मदद पहुंचाई जाए ताकि लोगों को कम से कम तकलीफों का सामना करना पड़े और यही काम संघ कहीं वर्षों से करता आ रहा है और इस बार भी यही कमाल संघ ने कर दिखाया।

हा मैं बात कर रहा हूं संघ यानी के राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की, संघ की जितनी भी तारीफ करें उतनी कम है और आज मुझे लगता है कि संघ के लिए कुछ लिखा जाएं ताकि लोगों तक ये बात पहुंचनी चाहिए कि संघ क्या क्या कर रहा है जिसकी थोड़ी बहुत जानकारी आपको होनी चाहिए। हालांकि मुझे लगता है कि संघ को मेरा लिखा आर्टिकल पसंद ना आए क्यों की जैसे मैने कहा कि संघ को अपनी तारीफ कि

खबर छपवाने में कोई भी रुचि नहीं होती परन्तु मुझे लगता है कि मुझे कुछ लिखना चाहिए संघ के लिए ताकि आज के युवाओं को संघ के किए हुए कार्यों के बारे में जानकारियां मिले।

जैसे ही प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने लोकडाउन की घोषणा की उस दिन से संघ अपने राहत कार्यों में जुट गया। 86,000 के क़रीब सेवा संस्थान, 5 लाख के क़रीब स्वयंम सेवक ने 1 करोड़ से ज्यादा राशन किट, 7.5 करोड़ से ज्यादा तैयार भोजन पैकेट, 65 लाख मास्क और 70 लाख लोगो तक आयुर्वेदिक काढ़ा पहुंचाया, प्रवासी मजदूरों के लिए 1800 से अधिक भोजन वितरण केंद्र स्थापित किए जिसमें 30 लाख से ज्यादा मजदूरों तक मदद पहुंचाई, 485 मेडिकल केंद्र द्वारा 1.5 लाख मजदूरों को सेवा दी गई,

भारत के 935 बस और रेलवे स्टेशन पर सहायता केंद्र स्थापित किया गया जिसमें तकरीबन 10 लाख से ज्यादा मजदूरों कि सहायता कि गई और इसके अलावा 40000 यूनिट रक्तदान भी संघ के स्वयंम सेवक की तरफ से दिया गया और मुंबई तथा पुणे कि कहीं सारे जुग्गी वाले इलाकों में 2.5 लाख से ज्यादा लोगो की स्क्रीनिंग का काम भी संघ ने किया अब इतना बडा काम करना वो भी बिन बताए ये कला सिर्फ और सिर्फ संघ के पास है।

पूरे विश्व में कोई इतना बड़ा कार्य करने वाला संगठन आजतक नहीं हुआ जिसने विपत्तियों में बिन बताए ना जाने कितने करोड़ों लोगो की सेवाएं की और करता आ रहा है, ऐसे संघ को मेरे द्वारा कोटि कोटि नमन ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *